Dhokha shayari / Pyar me dhokha shayari / Love dhoka shayari

Dhokha shayari / Pyar me dhokha shayari / Love dhoka shayari : Lets read some beautiful dhokha shayari that you can share in your Facebook story, WhatsApp status.

dhokha shayari

 1) Pyar me dhokha shayari

मेरी ख़ामोशी को कमज़ोरी समझ बैठे

मेरे प्यार को एक आदत समझ बैठे।

कदर खत्म हो गई मेरी प्यार की 

तुम जब से किसी और के हो बैठे।

Meree khaamoshee ko kamazoree samajh baithe
mere pyaar ko ek aadat samajh baithe.
kadar khatm ho gaee meree pyaar kee
tum jab se kisee aur ke ho baithe.


2) Dhoka shayari in hindi

दिल में आकर, यूं समाकर

मुझे अपने करीब, अपना बनाकर

मुंह मोड़ के चल दिए।

तुम चार दिन मेरी मोहब्बत बन

अगले दिन किसी और के हो गए।

Dil mein aakar, yoon samaakar
mujhe apane kareeb, apana banaakar
munh mod ke chal die.
tum chaar din meree mohabbat ban
agale din kisee aur ke ho gae.

In the heart, like this
Make me closer to you
Mouth turn away
You become my love for four days
The next day someone else turned up.


hindi shayari on dhokha

3) Dhokha status in hindi

तकदीर कहां मुझे सुकून देती है

कभी प्यार कभी धोखा देती है।

कुसूर कैसे समझू किसी और का

जब मेरी ही जिंदगी मुझे ठोकर देती है।

Takadeer kahaan mujhe sukoon detee hai
kabhee pyaar kabhee dhokha detee hai.
kusoor kaise samajhoo kisee aur ka
jab meree hee jindagee mujhe thokar detee hai.

Where does fortune ease me
Sometimes love sometimes cheats.
How should I understand someone else’s law
When my life causes me to stumble


4) Pyar me dhokha shayari gf

प्यार करने की कोशिश बहुत बार की

पर तुम्हारे प्यार की तरह अधूरी ही रह गई।

कितना संभाला दिल को अपने

एक धोखे के बाद उसमे जैसे जान ही नहीं थी।

Pyaar karane kee koshish bahut baar kee
par tumhaare pyaar kee tarah adhooree hee rah gaee.
kitana sambhaala dil ko apane
ek dhokhe ke baad usame jaise jaan hee nahin thee.


5) 

shayari on dhokha

कोई पराया कभी दिल नहीं तोड़ सकता

वो बस विश्वास को थोड़ी ठेस ही देता है।

दिल तो अपने तोड़ते हैं,

भरोसे का गला घोंटते है।

Koee paraaya kabhee dil nahin tod sakata
vo bas vishvaas ko thodee thes hee deta hai.
dil to apane todate hain,
bharose ka gala ghontate hai.


6) 

किसी अंजाम पर कभी 

इतना विश्वास मत करना।

कर सको तो प्यार खुद से करना

किसी और से ना करना।


Love dhoka shayari

बस एक वोही इंसान दे जाता है।

हजारों लोगों की भीड़ में धोखा 

जिसे मैं चाहता हूं, दिल से अपने

सारी दुनिया जिसके लिया भूल जाता हूं।


हर बात तुम्हारी झूठी थी
जो उस शाम तुम रूठी थी
बस बहाना था एक,
मुझे दूर भेजने का।
तुम्हारे दिल में उम्मीद
किसी और की थी
मैं तो सिर्फ एक धोखा था।

Har baat tumhaaree jhoothee thee
jo us shaam tum roothee thee
bas bahaana tha ek,
mujhe door bhejane ka.
tumhaare dil mein ummeed
kisee aur kee thee
main to sirph ek dhokha tha.


dhoka shayari in hindi

किसी पर भरोसा
इतना भी मत करना
कि तुम प्यार करते रहो,
और वो धोखा देता रहे।
दिल लगाना है,
तो इतना मत लगाओ
तुम प्यार समझो
और वो वक़्त खर्च करता रहे।

Kisee par bharosa
itana bhee mat karana
ki tum pyaar karate raho,
aur vo dhokha deta rahe.
dil lagaana hai,
to itana mat lagao
tum pyaar samajho
aur vo vaqt kharch karata rahe.


Dhokha shayari, mera khyal aata hai

खयाल बहुत बाकी हैं अभी

वक़्त तो मैंने बस लोगो को हूं दिया है।

जान लिया दुनिया सच अब

एक खुदा है मेरा, बाकी सब धोखा है।

खयाल बहुत बाकी हैं अभी
वक़्त तो मैंने बस लोगो को हूं दिया है।
जान लिया दुनिया सच अब
एक खुदा है मेरा, बाकी सब धोखा है।

Shayari on dhokha


कहने को तुम करीब थे

और मेरे बहुत अज़ीज़ थे।

मेरे दिल के संदूक में

कभी सबसे अनमोल थे।

Kahane ko tum kareeb the
aur mere bahut azeez the.
mere dil ke sandook mein
kabhee sabase anamol the


Dhokha shayari in eng

pyar me dhokha shayari

हर बात को तेरी
खुदा का कहा माना।
तेरी तस्वीर को ही
अपना जहां माना।
लूट गया मैं
तेरी मोहब्बत में।
मैंने तुझे प्यार
तूने मुझे धोखा माना।

Har baat ko teree
khuda ka kaha maana.
teree tasveer ko hee
apana jahaan maana.
loot gaya main
teree mohabbat mein.
mainne tujhe pyaar
toone mujhe dhokha maana.


Dhokha shayari, man jao na

कब्र पर मेरी
तुम भूल कर भी
मत आना।
यूं कागज के फूलों को
मैं अपना मान लूंगा
तुम अपना झूठा
गुलाब मत लाना।

Kabr par meree
tum bhool kar bhee
mat aana.
yoon kaagaj ke phoolon ko
main apana maan loonga
tum apana jhootha
gulaab mat laana.


Dhokha shayari, meri jindagi

पक्की राहें जिंदगी की
संग तेरे गुजारी।
हर शाम ढलती
तेरे साए में संवारी।
आज रास्ता कच्चा है
और मेरा मकान भी।
तुझसे धोखा खाते हुए
मैंने अपनी उम्र गुजारी।

Pakkee raahen jindagee kee
sang tere gujaaree.
har shaam dhalatee
tere sae mein sanvaaree.
aaj raasta kachcha hai
aur mera makaan bhee.
tujhase dhokha khaate hue
mainne apanee umr gujaaree.


Dhokha shayari, bhul jao mujhe

लोगो का सहारा लेकर
कभी मत चलना शायर।
जिंदगी अगर मौत की
तरफ ले जाती है
तो ये ‘ लोग ‘ और
इनका धोखा नरक में।

Logo ka sahaara lekar
kabhee mat chalana shaayar.
jindagee agar maut kee
taraph le jaatee hai
to ye log aur
inaka dhokha narak mein


Dhokha shayari, tmhara intjaar tha

प्यार का इंतजार था
मैं भी तो तन्हा था।
हज़ार लोग मिले मुझे
तुम जैसा कहां कोई था।
ख़ूबसूरत, मासूम
और धोखेबाज।

Pyaar ka intajaar tha
main bhee to tanha tha.
hazaar log mile mujhe
tum jaisa kahaan koee tha.
khoobasoorat, maasoom
aur dhokhebaaj.


Dhokha shayari, afsos tha mujhe

अफसोस करना कभी

तो किस्मत पर मत करना।

उसने तो वहीं लिखा जो होना था

तुमने ही लोग गलत चुने।

Aphasos karana kabhee
to kismat par mat karana.
usane to vaheen likha jo hona tha
tumane hee log galat chune


Dhokha shyari, mai shayar nahi hu

कहने को शायर हूं
और शायरी करता हूं।
धोखेबाज की बाहों में
सुकून भरता हूं।

Kahane ko shaayar hoon
aur shaayaree karata hoon.
dhokhebaaj kee baahon mein
sukoon bharata hoon.


कैसे विश्वास को लोग
तराजू में तोलते हैं।
एक तरफ मतलब
एक तरफ विश्वास तोलते हैं।

Kaise vishvaas ko log
taraajoo mein tolate hain.
ek taraph matalab
ek taraph vishvaas tolate hain


Dhokha shayari, mere dil ke saudagar

मेरे दिल के सौदागर
तेरा क्या नाम रखू।
जान, मोहब्बत, प्यार कहा है
सोचता हूं, धोखेबाज रख दूं।

Mere dil ke saudaagar
tera kya naam rakhoo.
jaan, mohabbat, pyaar kaha hai
sochata hoon, dhokhebaaj rakh doon.

Merchants of my heart
What is your name?
Where is love, love, love
I think, keep cheating.

Leave a Reply