Attitude shayari/ Girls Attitude shayari/Attitude status hindi

Attitude shayari/ Girls Attitude shayari/Attitude status hindi : Welcome come in our website GirlShayari where you will get different hindi shayari that you can share with your family, girlfriend or any best friend or any loved ones. Lets come and read Attitude Shayari in hindi.

Attitude shayari/ Girls Attitude shayari

Attitude shayari

तुम करते रहो इनकार
मैं हार नहीं मानूंगा।
तुझे पूछूंगा हर बार
उसी अंदाज में अपने
इतनी आसानी से नहीं
मैं पीछे हट जाऊंगा।

Tum karate raho inakaar
main haar nahin maanoonga.
tujhe poochhoonga har baar
usee andaaj mein apane
itanee aasaanee se nahin
main peechhe hat jaoonga.


मैं तेरी तकदीर पलट भी सकता हूं

तेरे दिन को रात कर भी सकता हूं।

तू आज मुझे देखने को राज़ी नहीं

मैं तेरे घर की हर दीवार को 

अपनी तस्वीर कर सकता हूं।

main teree takadeer palat bhee sakata hoon
tere din ko raat kar bhee sakata hoon.
too aaj mujhe dekhane ko raazee nahin
main tere ghar kee har deevaar ko
apanee tasveer kar sakata hoon.


कहने को मैं आशिक़ हूं
पर कमजोर मत समझना।
प्यार पूरे दिल से करता हूं
इसे मेरी कमज़ोरी मत समझना।

Kahane ko main aashiq hoon
par kamajor mat samajhana.
pyaar poore dil se karata hoon
ise meree kamazoree mat samajhana.


ऐतराज़ है मुझे हर उस वक़्त पर

जो मेरे मुताबिक नहीं चलता।

ये जमाना मुट्ठी में कैद है मेरी

यहां का सूरज भी मेरे कहने पर है ढलता।

Aitaraaz hai mujhe har us vaqt par
jo mere mutaabik nahin chalata.
ye jamaana mutthee mein kaid hai meree
yahaan ka sooraj bhee mere kahane par hai dhalata.


मेरी फितरत पर शक तो खुदा को भी नहीं

तुम क्यूं इतना इतरा रहे हो।

मेरी नाकामियां गिना कर तुम

अपना कौन सा हुनर दिखा रहे हो।

Meree phitarat par shak to khuda ko bhee nahin
tum kyoon itana itara rahe ho.
meree naakaamiyaan gina kar tum
apana kaun sa hunar dikha rahe ho.


लोगो का कहना बंद नहीं होता

उन्हें शायद कोई काम नहीं है।

मुझे इनसे कोई फर्क नहीं पड़ता

मेरे पास इतना फालतू टाइम नहीं है।

लोगो का कहना बंद नहीं होता
उन्हें शायद कोई काम नहीं है।
मुझे इनसे कोई फर्क नहीं पड़ता
मेरे पास इतना फालतू टाइम नहीं है।


मेरा रुतबा इतना है
जितना तुम्हारा कद भी नहीं।
नज़रे उठा कर देखोगे
तो कदम लड़खड़ा जाएंगे।

Mera rutaba itana hai
jitana tumhaara kad bhee nahin.
nazare utha kar dekhoge
to kadam ladakhada jaenge.


मेरी मा ने मुझे बदतमीजी नहीं सिखाई
वरना बोलना तो मैं भी जानता हूं।
भोंकते इन लोगो के मुंह बंद करना
कोई बड़ी बात नहीं
इनकी भाषा थोड़ी मैं भी जनता हूं।

Meree ma ne mujhe badatameejee nahin sikhaee
varana bolana to main bhee jaanata hoon.
bhonkate in logo ke munh band karana
koee badee baat nahin
inakee bhaasha thodee main bhee janata hoon.


मेरी कहानियां तुम एक दिन
पूरी दुनिया को सुनाओगे।
ये जो इतना गुरूर है खुद पर
मेरे आगे उसे छोटा पाओगे।

Meree kahaaniyaan tum ek din
pooree duniya ko sunaoge.
ye jo itana guroor hai khud par
mere aage use chhota paoge.


डरना तो हमने कभी सीखा ही नहीं

तुम क्यूं इतना इतराते हो।

मेरी शक्सियत से वाक़िफ नहीं हो शायद

इसलिए इतना चिल्लाते हो।

Darana to hamane kabhee seekha hee nahin
tum kyoon itana itaraate ho.
meree shaksiyat se vaaqiph nahin ho shaayad
isalie itana chillaate ho.


मेरी सादगी मेरी पहचान है
ये दुनिया मेरी शक्सियत से अंजान है।
बनके कहर टूटना होगा मुझे भी
उन पर जो लोग बहुत बईमान है।

Meree saadagee meree pahachaan hai
ye duniya meree shaksiyat se anjaan hai.
banake kahar tootana hoga mujhe bhee
un par jo log bahut baeemaan hai.


किसी के दिल की धड़कन नहीं
अपनी मां की आंखो का तारा हूं मैं।
मुझे चिराग लेकर ढूंढने वाले
ऊपर देख, खुद एक सितारा हूं मैं।

Kisee ke dil kee dhadakan nahin
apanee maan kee aankho ka taara hoon main.
mujhe chiraag lekar dhoondhane vaale
oopar dekh, khud ek sitaara hoon main.


किसी की इजाजत से ठहरती नहीं मैं
अपना फैसला खुद लेती हूं।
निकल जाऊं जिस राह पर
उससे वापिस मुड़ती नहीं मैं।

Kisee kee ijaajat se thaharatee nahin main
apana phaisala khud letee hoon.
nikal jaoon jis raah par
usase vaapis mudatee nahin main.


आंखे उठा के ही बात करना हमसे
हमारे कद से बराबरी कर नहीं पाओगे।
नज़रे झुका कर तो हमारे पैरों की धूल दिखेगी
उस काबिल भी तुम बन नहीं पाओगे।

Aankhe utha ke hee baat karana hamase
hamaare kad se baraabaree kar nahin paoge.
nazare jhuka kar to hamaare pairon kee dhool dikhegee
us kaabil bhee tum ban nahin paoge.


जो कहते हैं मैं उनके काबिल नहीं
उन्हें बता दूं आज,
तुम्हारे काबिल बनने का तो
कभी खयाल भी नहीं आया मुझे।

Jo kahate hain main unake kaabil nahin
unhen bata doon aaj,
tumhaare kaabil banane ka to
kabhee khayaal bhee nahin aaya mujhe.


खुदा से खौफ उनको है
जो काम गलत करते हैं।
जो सच्चाई से जीता है
उसकी रखवाली
खुदा के फरिश्ते करते हैं।

Khuda se khauph unako hai
jo kaam galat karate hain.
jo sachchaee se jeeta hai
usakee rakhavaalee
khuda ke pharishte karate hain.


हर किसी पर अपना हक समझना

मुझे पसंद नहीं है।

पर जो मेरा है, खुदा की कसम

वो किसी और का नहीं है।

Har kisee par apana hak samajhana
mujhe pasand nahin hai.
par jo mera hai, khuda kee kasam
vo kisee aur ka nahin hai.


बादशाहत मेरी जहां से शुरू होती है
वहां तक तुम्हारी गुलामी
कभी पहुंच भी नहीं पाएगी।

Baadashaahat meree jahaan se shuroo hotee hai
vahaan tak tumhaaree gulaamee
kabhee pahunch bhee nahin paegee.


याद रखना ये चेहरा
कभी सलाम ठोकोगे
तो पहचान बढ़ाने के
काम आयेगा।

Yaad rakhana ye chehara
kabhee salaam thokoge
to pahachaan badhaane ke
kaam aayega.


गुज़ारिश नहीं करता मैं
बस फैसला सुनाता हूं।
इतना नाम बनाया है
उस फैलसे को फिर
हुकुम बनाता हूं।

Guzaarish nahin karata main
bas phaisala sunaata hoon.
itana naam banaaya hai
us phailase ko phir
hukum banaata hoon.


Hame viswas hai ki aapko Attitude shayari bahut achhi lagi hogi. Aap apne sujhav comment krke de taki mai aap sabhi ke liye ise bhi achhi shayari la saku.

Leave a Reply